मोहब्बत शेर ओ शायरी – शायरी संग्रह भाग 7


3.निगाहों में कोई भी दूसरा चेहरा नहीं आया,

भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का…..!Image result for romantic images

4.ना शौक दीदार का… ना फिक्र जुदाई की,
बड़े खुश नसीब हैँ वो लोग जो…मोहब्बत नहीँ करतेँ…Image result for romantic images


log in

reset password

Back to
log in