2 लाइन शायरी जो दिल को छू जाये – शायरी संग्रह भाग 11


ख़ाक से बढ़कर कोई दौलत नहीं होती छोटी मोटी बात पे हिज़रत नहीं होती,.,
पहले दीप जलें तो चर्चे होते थे और अब शहर जलें तो हैरत नहीं होती,.,!!Image result for udas chehra

सच की हालत किसी तवायफ सी है,
तलबगार बहुत हैं तरफदार कोई नही.,.,!!Image result for udas chehra


log in

reset password

Back to
log in